अब हमको देना वोट



महंगाई की मार पड़ी , दिया कमर को तोड़ |
हो गए है विकलांग सभी , अब खड़े हैं हाथ जोड़ ||

अब खड़े हैं हाथ जोड़ , कौन पूंछे हाल हमारे |
साथी गये सब छोड़ , दूर बहुत हैं किनारे ||

मंत्री जी समझाय , तुमने दिया उनको वोट |
नहीं रहे कमर एसी, अब हमको देना वोट ||


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

  © Free Blogger Templates 'Photoblog II' by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP